Monday, 21 November 2016

मैं भारत हूँ के कुछ पुराने मुख्यापृष्ट भारतीय राजनीति से प्रेरित एकमात्र पत्रिका - संपादक बिजय कुमार जैन




मैं भारत हूँ के कुछ पुराने मुख्यापृष्ट - संपादक बिजय कुमार जैन


 



मैं भारत हूँ पत्रिका का मुख्यापृष्ट नवम्बर २०१६ - संपादक - बिजय कुमार जैन





Thursday, 17 November 2016

जरूर पढ़ें - इंदिरा गांधी के बारे में महत्‍वपूर्ण जानकारी

श्रीमती इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) भारत की एकमात्र महिला प्रधानमंत्री थीं इंदिरा गांंधी
वर्ष 1966 से 1977 तक लगातार 3 पारी के लिए भारत गणराज्य की प्रधानमन्त्री रहीं और चौथी पारी में 1980 से लेकर 1984 में उनकी राजनैतिक हत्या कर दी गई थी आइये जानते हैं इंदिरा गांधी के बारे में महत्‍वपूर्ण जानकारी
इंदिरा गांधी का जीवन परिचय



श्रीमती इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पं० जवाहरलाल नेहरू (Pandit Jawaharlal Nehru) की पुत्री थी
इनका माता का नाम कमला नेहरू (Kamla Nehru) था
इनका जन्‍म 19 नवम्बर, 1917 को इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आनंद भवन (Anand Bhavan) में हुआ था
श्रीमती इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) का पूरा नाम इंदिरा प्रियदर्शनी गाँधी था
श्रीमती इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) ने सोमरविल कॉलेज, ऑक्सफोर्ड से पढाई की थी वर्ष 1941 में भारत वापस आने के बाद वे भारतीय स्वतन्त्रता आन्दोलन
में शामिल हो गयीं थीं
सबसे पहले श्रीमती इंदिरा
गांधी (Indira Gandhi) को लालबहादुर शास्त्री के मंत्रिमंडल में वर्ष 1964-1966 तक सूचना और प्रसारण मत्री बनाया गया था
भारत के दूसरे प्रधान मंत्री लाल बहादुर शास्‍त्री (Lal Bahadur Shastri) की मृत्‍यु के बार श्री मती इंदिरा गांधी भारत की तीसरी और देश की पहली महिला प्रधानमंत्री बनींं थी
श्रीमती इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) का विवाह 1942
में फिरोज़ गाँधी से हुआ
श्रीमती इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) जी के दो पुत्र थे 1. राजीव गाँधी 2. संजय गाँधी
श्रीमती इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) के समय में ही 26 जून 1975 को भारत में आपातकाल लगया गया था
पंजाब के स्‍वर्ण मंदिर में
से आतंकवादियों को निकालने के लिए चलाया गया ऑपरेशन ब्‍लू स्‍टार इंदिरा गांधी के समय में चलाया गया था
बैंकों का राष्ट्रीयकरण सर्वप्रथम श्रीमती इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) ने ही किया था
31 अक्टूबर 1984 को श्रीमती गाँधी के आवास
पर तैनात उनके दो सिक्ख अंगरक्षकों ने गोली मारकर उनकी हत्या कर दी थी
श्रीमती इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) को वर्ष 1971 में भारत के सर्वोच्‍च सम्‍मान
भारत रत्‍न (Bharat Ratna) से सम्‍मानित किया गया था

किसी भी राष्ट्र की संस्कृति और अस्मिता की पहचान उसकी अपनी भाषा से होती है | अटल बिहारी वाजपेयी


Monday, 14 November 2016

हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट की तरफ से सभी को बाल दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं - बिजय कुमार जैन







किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक

कृपया हमारे सोशल साइट्स पर विजिट करें और हिंदी के बारे में जानकारी लें

Friday, 28 October 2016

सभी को दीपावली पर्व पर बहुत बहुत शुभकामनाएँ - बिजय कुमार जैन

ये दिवाली आपके जीवन, में खुशियों की बरसात
लाए, धन और शौहरत की बौछार करे,
दिवाली की हार्दिक शुभकामनाएं!

बिजय कुमार जैन (bijay jain ) : 9322307908

सम्पादक
मैं भारत हूँ ( Main Bharat Hun )


किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक

कृपया हमारे सोशल साइट्स पर विजिट करें और हिंदी के बारे में जानकारी लें


Tuesday, 25 October 2016

सभी प्रांतिय भाषाओं की समृद्धि के लिए कार्य करो – दिगम्बराचार्य विध्यसागर जी




भोपाल : 20 अक्टूबर, समय संध्या के छ: बजे, दिगम्बराचार्य विध्यसागर जी की भक्ति पूजा संपन्न होते ही गुरुवर ने भोपाल समाज के कुछ प्रमुखों व हिंदी के प्रथम हस्ताक्षर डॉ. वेद प्रताप वैदिक के साथ मुझे कहा कि ‘हिंदी’ को राष्ट्रभाषा का सम्मान दिलाने के लिए संकल्प लो और यह कार्य जल्द से जल्द होना चाहिए | डॉ. वैदिक ने कहा कि गुरूजी अब यह कार्य हो जाएगा कारण यह है कि अब जुनूनी व्यक्तित्व के धनी पत्रकार व संपादक बिजय जी ने यह बीड़ा उठा लिया है | हिंदी भवन, भोपाल में ही भारी संख्या में उपस्थित पत्रकार, साहित्यकारों की बिजय जी ने सभा बुलाई थी और सभी ने प्रण भी लिया कि


हिंदी को मिलेगा राष्ट्रभाषा का सम्मान
और
अब ये बन जायेगा सभी भारतवासियों का अभियान

गुरुदेव विद्यासागर जी ने कहा कि आप लोगों को भारतीय संस्कृति से रमी सभी भाषाओ की समृद्धि के साथ ‘हिंदी’ के लिए कार्य करना चाहि ए, तब ही भारत को राष्ट्रभाषा के रूप में ‘हिंदी’
प्राप्त हो सकती है |


राष्ट्रभाषा हिंदी बनाने के लिए संकल्प की जरुरत है और मैंने आपके द्वारा सम्पादित ‘जिनागम’, ‘मेरा राजस्थान’ व ‘मैं भारत हूँ’ पत्रिका देखी है, बहुत ही अच्छा कार्य कर रहे है आप, मैं चाहता हूँ कि ‘हिंदी’ को राष्ट्रभाषा का दर्ज़ा मिलने के लिए आप मेहनत करें, भारत के सभी धर्मों के संतों के साथ मिलकर सभी प्रांतीय भाषाओँ की संमृद्धि के के लिए भी कार्य करें, ताकि सभी राज्यों के भाषाविद का आपको सहयोग मिल सके क्योंकि सभी प्रांतिय भाषाएँ ‘हिंदी’ की बहानें हैं | बिजय कुमार जैन ने गुरुदेव विध्यसागर जी के चरणों में बैठकर प्रतिज्ञा ली कि गुरुदेव | आपके आशीर्वाद को जाया नहीं जाने दूंगा, प्रण करता हूँ कि ‘हिंदी’ को सम्मान दिलाने के साथ सभी भाषाओँ की समृद्धता के साथ सभी को ‘हिंदी’ से जुड़ाव के बाद ही इस धरती से जाऊंगा |


भोपाल से 20 अक्टूबर, 2016 कि रात्रि को ही मुंबई पहुँच गया, 21 अक्टूबर को भोपाल में स्थित हिंदी भवन व राष्ट्रभाषा प्रचार समिति के अध्यक्ष कैलाश चन्द्र जी पंत से बात कि, पंत साहब ने कहा की सम्पूर्ण भारत के सभी भाषाओँ के विद्धानों की सूचि की उपलब्धता पर मैं भी कार्य करना शुरू कर दूंगा और आपसे निवेदन कि सम्पूर्ण राज्यों के मुख्य व प्रधान कि एक सभा संयुक्त रूप से बुलाने के लिए मैं पूरी मदद करूँगा परंतु यह सभा आप अप्रैल, 2017 को बुलाओ, क्योंकि तब तक सभी राज्यों के ‘बजट’ पेश होगे और सभी मुख्य मंत्रियों को हिंदी के विषय पर कार्य करने का मौका मिलेगा और शत-प्रतिशत उपस्थिति भी होगी |


दोस्तों ! मुझे आप सबसे निवेदन है कि आप सबके पास सभी प्रांतीय भाषाओँ के विद्धानों की सूचि उपलब्ध हो तो तुरंत मेरे मेल पर भिजवायें,

Mail Id: hindiwelfaretrust@gmail.com, mailgaylordgroup@gmail.com

साथ ही मुझे मोबाइल – ९३२२३०७९०८ पर संपर्क कर मुझे जरुर बतला दे| दोस्तों ! आपका मिला थोड़ा सा सहयोग हमारे राष्ट्र भारत को पूर्ण आजादी दिलवायेगा अपनी स्वयं की भाषा ‘हिंदी’ में कार्य करना सिखलायेगा | आपके विचारों के इन्तजार में.....


जय भारत
आपका अपना
बिजय कुमार जैन
संस्थापक अध्यक्ष
Hindi Welfare Trust (हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट)


किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक

कृपया हमारे सोशल साइट्स पर विजिट करें और हिंदी के बारे में जानकारी लें

Saturday, 22 October 2016

मित्रों कल भोपाल में सम्पन्न हुए "हिंदी बने राष्ट्रभाषा अभियान" के तहत हुए आयोजन की कुछ ख़बरें

भोपाल में संपन्न हुए "हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान अभियान" के तहत हुए आयोजन की खबरे

बिजय कुमार जैन : 9322307908, 022-28509999

गेलार्ड ग्रुप की पत्रिकाएं :
Jinagam Mera Rajasthan Main Bharat Hun Patrika
संस्थापक : Hindi Welfare Trust




किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक


मैं भारत हूँ पत्रिका का अगला विशेषांक दिसम्बर २०१६ - सोनिया गांधी के जन्म दिवस पर

मैं भारत हूँ पत्रिका में विज्ञापन देने के लिए कृपया निचे दिए गए नंबर पर संपर्क करें
संपादक:
बिजय कुमार जैन : 9322307908, 022-28509999
गेलार्ड ग्रुप की पत्रिकाएं :
Jinagam Mera Rajasthan Main Bharat Hun Patrika
संस्थापक : Hindi Welfare Trust



किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक


मैं भारत हूँ पत्रिका अक्टूबर २०१६ की मुख्य पृष्ठ

संपादक:
बिजय कुमार जैन : 9322307908, 022-28509999
गेलार्ड ग्रुप की पत्रिकाएं :
Jinagam Mera Rajasthan Main Bharat Hun Patrika
संस्थापक : Hindi Welfare Trust



किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक


Thursday, 20 October 2016

20 अक्टूबर, 2016 को भोपाल में आयोजित पत्रकार सम्मलेन में उपस्थित हो ऐसा नम्र निवेदन है - बिजय कुमार जैन

20 अक्टूबर, 2016 को भोपाल में आयोजित सभा में आप सभी उपस्थित हो ऐसा नम्र निवेदन है.

बिजय कुमार जैन : 9322307908, 022-28509999

संस्थापक : Hindi Welfare Trust


किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक


Friday, 14 October 2016

हिंदी ही हिंद की भाषा प्रवाहित हिंदी ना करे निराशा लाखों बाधाये हो फिर भी हिंदी बन कर रहेगी राष्ट्रभाषा

बिजय कुमार जैन
संपादक व पत्रकार

संस्थापक : ( हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट 'हिंदी कल्याण न्यास') Hindi Welfare Trust
संपर्क करें और बतायें क्या हिंदी राष्ट्रभाषा बनें 'हां: या ना' 9322307908
या इस लिंक को क्लिक करें और साईट विजिट करें निचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें


किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक


पत्रकारिता के माध्यम से हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने की मांग ने पकड़ी रफ़्तार - बिजय कुमार जैन संस्थापाक हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट

पत्रकारिता के माध्यम से हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने की मांग ने पकड़ी रफ़्तार, इसी कड़ी में हमारी अगली सभा २० अक्टूबर, २०१६ को भोपाल में जाकर पहुंचे भरी संख्या में, विशेष जानकारी के लिए संपर्क करें 


बिजय कुमार जैन : 9322307908


किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क कर सकतें है, २४ घंटे ३६५ दिन
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक

Saturday, 8 October 2016

मीडिया को आगे आकर हिंदी को सम्मान दिलवाना चाहिए – कुमार केतकर, अध्यक्ष, प्रेस क्लब ऑफ़ इंडिया - मुम्बई

कहते हैं जब कभी कोई 'संवादमीडिया अपने स्तर पर उठा लेती हैतो वो कार्य सम्पूर्ण रूप से परिपूर्ण होता है हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट’ द्वारा आयोजित मुम्बई मराठी पत्रकार संघ में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रेस क्लब ऑफ़ इंडिया के अध्यक्ष कुमार केतकर ने कहा कि 'हिंदीको संवैधानिक राष्ट्रभाषा का दर्ज़ा तो वर्षों पहले ही मिल जाना चाहिए था परंतु विभिन्न कारणों से नहीं मिल पायाकोई बात नहींअब बिजय कुमार जी जैन जब इस राष्ट्रीय स्तर के मुद्दे को उठाया है और भारी संख्या में आप सभी पत्रकार - संवाददाता (प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक) की यहाँ उपस्थिति देखकर विश्वास हो गया है कि 'हिंदीभाषा को अब 'राष्ट्रभाषाका संवैधानिक दर्ज़ा प्राप्त होकर रहेगाऐसा मुझे विश्वास है |






हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट के अध्यक्ष बिजय कुमार जैन ने सवाल पुछते हुए कहा कि जिस देश की राष्ट्रभाषा नहींउसी भाषा में गाया जाने वाला राष्ट्रगीत / राष्ट्रगान 'जन-गण-मन / वन्दे मातरमकैसे हो सकता हैउन्होंने सभी पत्रकारों से अपील करते हुए कहा कि हम सभी को मिलकर ‘हिंदी’ को राष्ट्रभाषा का सम्मान दिलवाना चाहिएपूरे हिंदुस्तान की अब एक ही आवाज बने कि 'हिंदीही हमारी राष्ट्रभाषा है और रहेगीहिंदी को संवैधानिक दर्ज़ा मिलकर रहेगा |
 जय भारत जय हिंदी


किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए कृपया संपर्क करें
निवेदकबिजय कुमार जैन : 9322307908
संस्थापक