Sunday, 25 September 2016

Thursday, 22 September 2016

हिन्दी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान इसलिए २४ सितम्बर २०१६ को दिल्ली में बैठक का आयोजन

हिन्दी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान इसलिए २४ सितम्बर २०१६ को दिल्ली में बैठक का आयोजन

बिजय कुमार जैन
9322307908
संपादक 
मैं भारत हूँ





Monday, 19 September 2016

हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान' संगोष्ठी कोलकत्ता में संपन्न

'हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान' संगोष्ठी कोलकत्ता में संपन्न
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
सम्पादक
मैं भारत हूँ


'हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान' संगोष्ठी कोलकत्ता में संपन्न

'हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान' संगोष्ठी कोलकत्ता में संपन्न
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
सम्पादक
मैं भारत हूँ








Saturday, 17 September 2016

'हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान' संगोष्ठी लखनऊ में संपन्न

बिजय कुमार जैन 
संपादक
मैं भारत हूँ पत्रिका


मैं भारत हूँ की तरफ से पंत प्रधान नरेन्द्र मोदी जी के जन्म दिवस पर हार्दिक शुभकामनायें

मैं भारत हूँ की तरफ से पंत प्रधान नरेन्द्र मोदी जी के जन्म दिवस पर हार्दिक शुभकामनायें

बिजय कुमार जैन 
संपादक


Friday, 16 September 2016

14 सितम्बर 2016 को मुम्बई मराठी पत्रकार संघ में सुनिश्चित समय पर उपस्थित होंने की अपील

14 सितम्बर 2016 को मुम्बई मराठी पत्रकार संघ में सुनिश्चित समय पर उपस्थित होंने की अपील
हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान" इस विषय पर पत्रकारों की परिचर्चा बिजय कुमार जैन जी ने इस अभियान को तीव्रता से अपने अपने समाचार पत्रों के माध्यम से देश के कोने-कोने में जनजागृति लाने के लिएजनहित में हिंदी राष्ट्रभाषा को केंद्र सरकार एवं सुप्रीम कोर्ट से मान्यता व् सम्मान दिलाने हेतु सम्पूर्ण देशवासियों को एकजुट आवाज उठाने का मन बना लिया है। तथा 14 सितम्बर 2016 को मुम्बई मराठी पत्रकार संघ कक्ष में 3 बजे होने वाली परिचर्चा तथा 16 सितम्बर 2016 को लखनऊ में होने वाली परिचर्चा और दिल्ली में होने वाली परिचर्चाओ के सन्दर्भ में हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान, यही है सभी पत्रकार एवं देशवासियों का अभियान। परिचर्चा का समापन करते हुए उपस्थित समस्त सज्जनो व् पत्रकारों को 14 सितम्बर 2016 को मुम्बई मराठी पत्रकार संघ में सुनिश्चित समय पर उपस्थित होंने की अपील की है।
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
सम्पादक
मैं भारत हूँ




हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान" इस विषय पर पत्रकारों की परिचर्चा

हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान" इस विषय पर पत्रकारों की परिचर्चा
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
सम्पादक
मैं भारत हूँ



हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान" इस विषय पर पत्रकारों की परिचर्चा
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
सम्पादक
मैं भारत हूँ

Thursday, 15 September 2016

Wednesday, 14 September 2016

Tuesday, 13 September 2016

14 सितम्बर 2016 को मुम्बई मराठी पत्रकार संघ में सुनिश्चित समय पर उपस्थित होंने की अपील

हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान" इस विषय पर पत्रकारों की परिचर्चा बिजय कुमार जैन जी ने इस अभियान को तीव्रता से अपने अपने समाचार पत्रों के माध्यम से देश के कोने-कोने में जनजागृति लाने के लिएजनहित में हिंदी राष्ट्रभाषा को केंद्र सरकार एवं सुप्रीम कोर्ट से मान्यता व् सम्मान दिलाने हेतु सम्पूर्ण देशवासियों को एकजुट आवाज उठाने का मन बना लिया है। तथा 14 सितम्बर 2016 को मुम्बई मराठी पत्रकार संघ कक्ष में 3 बजे होने वाली परिचर्चा तथा 16 सितम्बर 2016 को लखनऊ में होने वाली परिचर्चा और दिल्ली में होने वाली परिचर्चाओ के सन्दर्भ में हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान, यही है सभी पत्रकार एवं देशवासियों का अभियान। परिचर्चा का समापन करते हुए उपस्थित समस्त सज्जनो व् पत्रकारों को 14 सितम्बर 2016 को मुम्बई मराठी पत्रकार संघ में सुनिश्चित समय पर उपस्थित होंने की अपील की है।
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
सम्पादक
मैं भारत हूँ





मीरा भायंदर मनपा मुख्यालय में हिंदी वेल्फेयर ट्रस्ट के तरफ से आयोजित "हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान " कार्यक्रम सम्प्पन

महाराष्ट्र ठाणे जिला अंतर्गत 10 सितम्बर 2016 को मिरा भायंदर महानगर पालिका मुख्यालय के पत्रकार कक्ष में " हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान" विषय पर  पत्रकारों की एक  परिचर्चा रखी गयी, जिसका उद्देश्य सम्पूर्ण पत्रकार जगत को एकत्रित कर  पत्रकारिता के माध्यम से हिंदी को राष्ट्रीय भाषा बनाने के अभियान को भारत देश के हर राज्य ,हर शहर , हर गांव, हर घर के जनता तक पहुंचाने का आवाहन करना था। इस परिचर्चा में मिरा भायंदर के तथा वसई- विरार के  अनेकों पत्रकार सम्मिलित हुए।

मैं भारत हूँ, जिनागम तथा मेरा राजस्थान के संपादक एवं हिंदी वेल्फेयर ट्रस्ट के संपादक श्री विजय कुमार जैन ने  मिरा-भायंदर पत्रकार संघ के अध्यक्ष श्री राजुकाले द्वारा दीप प्रज्वलन और सरस्वती वंदना के साथ कार्यक्रम की शुरुवात की।

विजय जी ने पत्रकारों के समक्ष देश में हिंदी की जरुरत, महत्त्व और सम्मान की चर्चा के साथ ही ये भी कहा कि हर प्रान्त की अपनी भाषा उस प्रान्त की अस्मिता होती है, किन्तु जब पूरे देश की बात की जाये,एवं हिंदुस्तान की बात की जाये तो हिंदुस्तान की राष्ट्रभाषा   का दर्जा का अधिकार सिर्फ हिंदी को ही मिले,
श्री राजू काले ने भी पत्रकारों को बताया की बेशक देश में मराठी, गुजराती, बंगाली, तमिल , अंग्रेजी आदि तरह के तमाम  भाषायें लोगों द्वारा उनकी सहूलियत से बोली जाये , लेकिन हिंदी को विशेष तौर पर भारत में राष्ट्रभाषा का सम्मान व् मान्यता अवश्य  मिलना चाहिये। क्योकि भारतीय संविधान के अनुच्छेद के अनुसार वास्तविक तौर पर हिंदी ही भारत संघ की राष्ट्रभाषा के रूप में मूल अधिकारी है ।
इस परिचर्चा  के आयोजक 

पुलिस पब्लिक प्रेस राष्ट्रीय पत्रिका की सीनियर रिपोर्टर और हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट की सदस्या श्रीमती सीमा पारीक  ने इस परिचर्चा के आयोजन में उपस्थित समस्त पत्रकारों का विशेष आभार एवम् हार्दिक अभिनदंन व्यक्त करते हुवे कहा कि आज के कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य हिंदी के सम्मान का ये अभियान किसी एक व्यक्ति का नहीं बल्कि पुरे राष्ट्र का अभियान है , हिन्दुस्तान के हर नागरिक  का अभियान है इसके लिए भारत के  सम्पूर्ण पत्रकार जगत को हिंदी वेल्फेयर ट्रस्ट के संस्थापक मा.विजय जी के साथ मिलकर देश में हिंदी को राष्ट्रभाषा की मान्यता व सम्मान दिलाने के लिए जन जागरूकता लानी नितांत आवश्यक है, क्योकि आज देश को आजाद हुवे पुरे 70 साल हो गए किन्तु भारत देश का हिंदी  राष्ट्र भाषा अभी तक घोषित नहीं हो पाया , जिसकी वजह से आम जनमानस को भारत के ही विभिन्न राज्यों व् प्रादेशिक राज्यों में भिन्न भिन्न  प्रकार  के राज्यों में किसी भी प्रकार के विजनेश ,व्यापार, तथा किसी भी प्रकार के आदान ,प्रदान ,व्यव्हार हेतु लोगो को तमाम कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है ,जिसे ध्यान में रखते हुवे विजय जैन एवम् सीमा पारीक ने कहा की  समूर्ण भारतीय नागरिकों जाग्रित करने माध्यम सिर्फ मिडिया ,पत्रकारिता जगत से जुड़े पत्रकारों के योगदान से ही संभव है ,

कार्यक्रम में मैं भारत हूँ, की कार्यकारिणी संपादिका श्रीमती अनुपमा शर्मा एवं  कल्पना शर्मा ,के अतिरिक्त मीरा भायंदर के विभिन्न पत्रकारों के साथ साथ मुम्बई मास टाइम्स के संपादक ,लक्ष्यधारी के संपादक,तथा क्राइम स्टॉप के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष अब्दुल गफ्फार , क्राइम रिपोर्ट वेलफेयर अशोसिएसन्  टीम प्रातःकाल संवाददाता शतिष पटेलऔर राष्ट्रिय हिंदी  साप्ताहिक समाचार पत्र के संपादक एवं उत्तर प्रदेश की जनता द्वारा मनोनित "संयुक्त समाज दल "के  जनता द्वारा निवार्चित राष्ट्रिय अध्यक्ष एम के मौर्य अपने प्रमुख कार्यकर्ता विमलेश दुबे के साथ कार्यक्रम में अपनी मौजूदगी दर्ज कराये ।जहाँ हिंदी वेल्फेयर ट्रस्ट के अध्यक्ष 
विजय जी ने इस अभियान को तीव्रता से अपने अपने समाचार पत्रों के माध्यम से देश के कोने कोने में जनजागृति लाने के लिएजनहित में हिंदी राष्ट्रभाषा को  केंद्र सरकार एवं सुप्रीम कोर्ट से मान्यता व् सम्मान दिलाने हेतु सम्पूर्ण देशवासियों को एकजुट आवाज उठाने की मन किया ।तथा 14 सितम्बर 2016 को मुम्बई मराठी पत्रकार संघ  कक्ष  में 3 बजे होने वाली परिचर्चा तथा 16 सितम्बर 2016 को लखनऊ में होने वाली परिचर्चा और दिल्ली में होने वाली परिचर्चाओ के सन्दर्भ में अवगत कराटे हुवे उपिस्थित पत्रकारों को धन्यवाद देते हुवे  हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान  ।यही है सभी पत्रकार एवं देशवासियों का अभीयान । परिचर्चा का समापन ककरत हुव उपस्थित समस्त सज्जनो व् पत्रकारों को 14 सितम्बर 2016 को मुम्बई मराठी पत्रकार संघ में सुनिश्चित समय पर उपस्थित होंने की अपील किया

निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908

सम्पादक
मैं भारत हूँ








मीरा भायंदर मनपा मुख्यालय में हिंदी वेल्फेयर ट्रस्ट के तरफ से आयोजित "हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान " कार्यक्रम सम्प्पन

महाराष्ट्र ठाणे जिला अंतर्गत 10 सितम्बर 2016 को मिरा भायंदर महानगर पालिका मुख्यालय के पत्रकार कक्ष में " हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान" विषय पर  पत्रकारों की एक  परिचर्चा रखी गयी, जिसका उद्देश्य सम्पूर्ण पत्रकार जगत को एकत्रित कर  पत्रकारिता के माध्यम से हिंदी को राष्ट्रीय भाषा बनाने के अभियान को भारत देश के हर राज्य ,हर शहर , हर गांव, हर घर के जनता तक पहुंचाने का आवाहन करना था। इस परिचर्चा में मिरा भायंदर के तथा वसई- विरार के  अनेकों पत्रकार सम्मिलित हुए।

मैं भारत हूँ, जिनागम तथा मेरा राजस्थान के संपादक एवं हिंदी वेल्फेयर ट्रस्ट के संपादक श्री विजय कुमार जैन ने  मिरा-भायंदर पत्रकार संघ के अध्यक्ष श्री राजुकाले द्वारा दीप प्रज्वलन और सरस्वती वंदना के साथ कार्यक्रम की शुरुवात की।

विजय जी ने पत्रकारों के समक्ष देश में हिंदी की जरुरत, महत्त्व और सम्मान की चर्चा के साथ ही ये भी कहा कि हर प्रान्त की अपनी भाषा उस प्रान्त की अस्मिता होती है, किन्तु जब पूरे देश की बात की जाये,एवं हिंदुस्तान की बात की जाये तो हिंदुस्तान की राष्ट्रभाषा   का दर्जा का अधिकार सिर्फ हिंदी को ही मिले,
श्री राजू काले ने भी पत्रकारों को बताया की बेशक देश में मराठी, गुजराती, बंगाली, तमिल , अंग्रेजी आदि तरह के तमाम  भाषायें लोगों द्वारा उनकी सहूलियत से बोली जाये , लेकिन हिंदी को विशेष तौर पर भारत में राष्ट्रभाषा का सम्मान व् मान्यता अवश्य  मिलना चाहिये। क्योकि भारतीय संविधान के अनुच्छेद के अनुसार वास्तविक तौर पर हिंदी ही भारत संघ की राष्ट्रभाषा के रूप में मूल अधिकारी है ।
इस परिचर्चा  के आयोजक 

पुलिस पब्लिक प्रेस राष्ट्रीय पत्रिका की सीनियर रिपोर्टर और हिंदी वेलफेयर ट्रस्ट की सदस्या श्रीमती सीमा पारीक  ने इस परिचर्चा के आयोजन में उपस्थित समस्त पत्रकारों का विशेष आभार एवम् हार्दिक अभिनदंन व्यक्त करते हुवे कहा कि आज के कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य हिंदी के सम्मान का ये अभियान किसी एक व्यक्ति का नहीं बल्कि पुरे राष्ट्र का अभियान है , हिन्दुस्तान के हर नागरिक  का अभियान है इसके लिए भारत के  सम्पूर्ण पत्रकार जगत को हिंदी वेल्फेयर ट्रस्ट के संस्थापक मा.विजय जी के साथ मिलकर देश में हिंदी को राष्ट्रभाषा की मान्यता व सम्मान दिलाने के लिए जन जागरूकता लानी नितांत आवश्यक है, क्योकि आज देश को आजाद हुवे पुरे 70 साल हो गए किन्तु भारत देश का हिंदी  राष्ट्र भाषा अभी तक घोषित नहीं हो पाया , जिसकी वजह से आम जनमानस को भारत के ही विभिन्न राज्यों व् प्रादेशिक राज्यों में भिन्न भिन्न  प्रकार  के राज्यों में किसी भी प्रकार के विजनेश ,व्यापार, तथा किसी भी प्रकार के आदान ,प्रदान ,व्यव्हार हेतु लोगो को तमाम कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है ,जिसे ध्यान में रखते हुवे विजय जैन एवम् सीमा पारीक ने कहा की  समूर्ण भारतीय नागरिकों जाग्रित करने माध्यम सिर्फ मिडिया ,पत्रकारिता जगत से जुड़े पत्रकारों के योगदान से ही संभव है ,

कार्यक्रम में मैं भारत हूँ, की कार्यकारिणी संपादिका श्रीमती अनुपमा शर्मा एवं  कल्पना शर्मा ,के अतिरिक्त मीरा भायंदर के विभिन्न पत्रकारों के साथ साथ मुम्बई मास टाइम्स के संपादक ,लक्ष्यधारी के संपादक,तथा क्राइम स्टॉप के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष अब्दुल गफ्फार , क्राइम रिपोर्ट वेलफेयर अशोसिएसन्  टीम प्रातःकाल संवाददाता शतिष पटेलऔर राष्ट्रिय हिंदी  साप्ताहिक समाचार पत्र के संपादक एवं उत्तर प्रदेश की जनता द्वारा मनोनित "संयुक्त समाज दल "के  जनता द्वारा निवार्चित राष्ट्रिय अध्यक्ष एम के मौर्य अपने प्रमुख कार्यकर्ता विमलेश दुबे के साथ कार्यक्रम में अपनी मौजूदगी दर्ज कराये ।जहाँ हिंदी वेल्फेयर ट्रस्ट के अध्यक्ष 
विजय जी ने इस अभियान को तीव्रता से अपने अपने समाचार पत्रों के माध्यम से देश के कोने कोने में जनजागृति लाने के लिएजनहित में हिंदी राष्ट्रभाषा को  केंद्र सरकार एवं सुप्रीम कोर्ट से मान्यता व् सम्मान दिलाने हेतु सम्पूर्ण देशवासियों को एकजुट आवाज उठाने की मन किया ।तथा 14 सितम्बर 2016 को मुम्बई मराठी पत्रकार संघ  कक्ष  में 3 बजे होने वाली परिचर्चा तथा 16 सितम्बर 2016 को लखनऊ में होने वाली परिचर्चा और दिल्ली में होने वाली परिचर्चाओ के सन्दर्भ में अवगत कराटे हुवे उपिस्थित पत्रकारों को धन्यवाद देते हुवे  हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान  ।यही है सभी पत्रकार एवं देशवासियों का अभीयान । परिचर्चा का समापन ककरत हुव उपस्थित समस्त सज्जनो व् पत्रकारों को 14 सितम्बर 2016 को मुम्बई मराठी पत्रकार संघ में सुनिश्चित समय पर उपस्थित होंने की अपील किया

निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
सम्पादक
मैं भारत हूँ








10 सितंबर को मिरा भायंदर महानगर पालिका के पत्रकार कक्ष में " हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान" इस विषय पर पत्रकारों की परिचर्चा

10 सितंबर को मिरा भायंदर महानगर पालिका के पत्रकार कक्ष में " हिंदी को मिले राष्ट्रभाषा का सम्मान" इस विषय पर पत्रकारों की परिचर्चा संपन्न हुई, इस परिचर्चा में मिरा भायंदर के तथा वसई- विरार के पत्रकार समिलित हुए। इस परिचर्चा का उल्लेख मीरा भायंदर एवं वसई - विरार के सभी समाचार पत्रों में किया गया |
निवेदक
बिजय कुमार जैन : 9322307908
सम्पादक
मैं भारत हूँ